पतंजलि 3kW सोलर सिस्टम लगाने से पहले पूरा सच जान लीजिए

पतंजलि 3kW सोलर सिस्टम

ज्यादातर घरों में 3 किलोवाट सोलर सिस्टम का उपयोग आम हो गया है क्योंकि 3 किलोवाट सोलर सिस्टम प्रतिदिन लगभग 15 यूनिट बिजली जनरेट कर सकती है। एक बड़ा परिवार आसानी से एक दिन में लगभग 15 यूनिट बिजली की कंसम्पशन करता है इसलिए तीन से चार कूलर, वॉशिंग मशीन, रेफ्रिजरेटर, लाइट, पंखे, कंप्यूटर और इसी तरह के एप्लायंस वाले घरों के लिए, 3 किलोवाट का सोलर सिस्टम सुइटेबल है।

आप बाजार में उपलब्ध डिफरेंट इनवर्टर और कई प्रकार के सोलर पैनलों के साथ 3 किलोवाट सोलर सिस्टम को कस्टमाइज कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, पतंजलि कंपनी कई प्रकार के सोलर पैनल ऑफर करती है। इसलिए, अपनी स्पेसिफिक नीड और टेक्नोलॉजी परेफरेंस के आधार पर सोलर पैनलों को सेलेक्ट करना आवश्यक है।

पतंजलि 3kW पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल

पतंजलि 3kW सोलर सिस्टम
Source: IndiaMart

पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल वास्तव में अपनी कम कॉस्ट के कारण सबसे लोकप्रिय विकल्प हैं। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि सोलर सिस्टम के बढ़ते साइज के साथ आपकी कॉस्ट-सेविंग भी बढ़नी चाहिए। 3 किलोवाट के सोलर पैनल सिस्टम की कीमत आपको लगभग 85,000 रुपये हो सकती है।

हालाँकि, पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल अन्य प्रकार के सोलर पैनलों की तुलना में कम एफिशिएंसी के कारण सर्दियों, बरसात के दिनों या जब सूरज की रोशनी कम होती है तो काफी कम बिजली जनरेट करते हैं। इसलिए, यदि आपके पास सीमित बजट है और आप कम लागत पर सोलर पैनल इंस्टॉल करना चाहते हैं, तो पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनलों पर विचार करना एक विएबल ऑप्शन हो सकता है।

पतंजलि 3kW मोनो पर्क सोलर पैनल

मोनो पर्क टेक्नोलॉजी वाले सोलर पैनल सबसे अच्छे माने जाते हैं, हालाँकि अब आपको इस तकनीक में बाइफेशियल सोलर पैनल भी मिल सकते हैं जो थोड़े महंगे होते हैं। मोनो पर्क तेछनोलोग्य का उपयोग करने वाले 3 किलोवाट के सोलर पैनल सिस्टम की कीमत आपको लगभग 1 लाख रुपये हो सकती है। तो, यहां आप अनुमान लगा सकते हैं कि यदि आप मोनो पर्क पैनल चुनते हैं तो आप लगभग 15,000 रुपये बचा सकते हैं।

मोनो पर्क टेक्नोलॉजी ज्यादा धूप और बरसात के दिनों में भी अच्छा प्रदर्शन करते हैं इसलिए इन पैनलों में एक्स्ट्रा इन्वेस्टमेंट करना जस्टीफ़ाइड है इनके आउटपुट कैपेसिटी को ध्यान में रखते हुए।

पतंजलि सोलर चार्ज कंट्रोलर

अगर आपके पास सोलर इन्वर्टर नहीं है तो आप सीधे सोलर पैनल का उपयोग नहीं कर सकते। इस पर्पस के लिए आपको एक सोलर चार्ज कंट्रोलर की आवश्यकता होगी। बाज़ार में ऐसा कोई सोलर चार्ज कंट्रोलर उपलब्ध नहीं है जो केवल एक या दो बैटरियों पर 3 किलोवाट तक के सोलर पैनलों का समर्थन करता हो। इसलिए, आपको कम से कम एक सोलर चार्ज कंट्रोलर खरीदने की आवश्यकता होगी जो 3-किलोवाट सोलर पैनल सिस्टम को एकोमोडेट करने के लिए 3 या 4 बैटरियों को सपोर्ट कर सके।

आशापावर Neon 80

पतंजलि 3kW सोलर सिस्टम
Source: Amazon.in

यह बाज़ार में उपलब्ध सबसे अच्छा सोलर चार्ज कंट्रोलर है क्योंकि आप इसका उपयोग सिंगल बैटरी सेटअप से लेकर मल्टीप्ल बैटरी तक के सिस्टम के लिए कर सकते हैं। भले ही आपके पास तीन-बैटरी वाला इन्वर्टर हो फिर भी आप इसका उपयोग 3 किलोवाट तक के सोलर पैनलों को कनेक्ट करने के लिए कर सकते हैं। इसी तरह, चार बैटरी वाले इन्वर्टर के लिए आप 4 किलोवाट तक के सोलर पैनल कनेक्ट कर सकते हैं।

अगर फ्यूचर में आप बैटरी इन्वर्टर में अपग्रेड करने का डिसिशन लेते हैं तो भी आप उसी सोलर पैनल और उसी सोलर चार्ज कंट्रोलर का उपयोग कर सकते हैं। यह सोलर चार्ज कंट्रोलर MPPT टेक्नोलॉजी का उपयोग करता है, जो इसे थोड़ा ज्यादा महंगा बनाता है। आप बाजार में इस सोलर चार्ज कंट्रोलर को लगभग ₹15,000 में लेने की उम्मीद कर सकते हैं।

स्मार्टन MPPT 24V/48V 50A

अगर आपके पास प्रेजेंट में दो-बैटरी वाला इन्वर्टर है और फ्यूचर में इसे चार-बैटरी वाले इन्वर्टर में अपग्रेड करने का प्लान है, और अगर आपके पास बजट की कमी है, तो आप इस सोलर चार्ज कंट्रोलर का विकल्प चुन सकते हैं। इसकी मदद से आप दो बैटरी पर 2 किलोवाट तक के पैनल और चार बैटरी पर 3 किलोवाट तक के पैनल लगा सकते हैं। यह सोलर चार्ज कंट्रोलर बाजार में लगभग ₹12,000 में उपलब्ध होगा ।

अन्य एक्सपेंस

सोलर चार्ज कंट्रोलर और सोलर पैनल के अलावा, आपको सोलर पैनल को सोलर चार्ज कंट्रोलर से जोड़ने के लिए वायरिंग की भी आवश्यकता होगी। इसके अलावा, आपके सिस्टम की सेफ्टी सुनिश्चित करने के लिए, आपको अर्थिंग और लाइटनिंग अरेस्टर की आवश्यकता होगी। इन कॉम्पोनेन्ट की टोटल एडिशनल कॉस्ट लगभग ₹15,000 होगी।

टोटल कॉस्ट

अगर आप पतंजलि से बिल्कुल नया 2 किलोवाट का सोलर सिस्टम लगवाना चाहते हैं तो इसकी कॉस्ट ज्यादा होगी क्योंकि आपको इनवर्टर और सोलर बैटरी भी पतंजलि से ही खरीदनी होगी।और अगर आप बजट-फ्रेंडली सोलर सिस्टम इंस्टॉल करना चाहते हैं तो आप 100Ah बैटरी के साथ पॉलीक्रिस्टलाइन टेक्नोलॉजी का विकल्प चुन सकते हैं, जो आपको पैसे बचाने में मदद करेगी। अगर आप लेटेस्ट टेक्नोलॉजी पसंद करते हैं, तो आप 150Ah बैटरी के साथ मोनो पर्क टेक्नोलॉजी वाला सोलर पैनल चुन सकते हैं।अब आपको अंदाजा हो गया होगा कि पतंजलि के 3-किलोवाट सोलर पैनल सिस्टम को इंस्टॉल करने में कितना खर्च आएगा।

यह भी देखिए: भारत के सबसे सस्ता 2kW सोलर सिस्टम का पूरा सच जानिए

1 thought on “पतंजलि 3kW सोलर सिस्टम लगाने से पहले पूरा सच जान लीजिए”

Leave a comment