अब लगवाएं Tata का सबसे एडवांस 10kW सोलर सिस्टम, जानिए क्या है प्लान

Tata का सबसे एडवांस 10kW Solar सिस्टम

आज के समय में सोलर पैनल का इस्तेमाल काफी बढ़ गया है। सोलर सिस्टम लगाकर नागरिक लंबे समय तक बिजली की जरूरतों के लिए सोलर एनर्जी का इस्तेमाल कर सकते हैं। सोलर सिस्टम में सोलर पैनल सूर्य से प्राप्त एनर्जी को डायरेक्ट करंट में बदल देते हैं। सोलर सिस्टम से बनने वाली बिजली पर्यावरण के लिए लाभदायक होते है और इससे कोई प्रदूषण नहीं होता। सरकार सोलर सिस्टम लगाने के लिए सब्सिडी भी प्रोवाइड करती है। इस आर्टिकल में हम बात करेंगे Tata के 10 किलोवाट सोलर सिस्टम इंस्टॉल करने में कितना खर्चा आता है।

Tata 10kW सोलर सिस्टम

अब लगवाएं Tata का सबसे एडवांस 10kW सोलर सिस्टम और पूरी करें अपने घर की सभी ज़रूरतों को, जानिए डिटेल्स
Source: SolaireGen

अगर आप टाटा से 10 किलोवाट का सोलर सिस्टम लगवाना चाहते है तो आपको सबसे पहले अपने डेली पावर बिजली लोड को जानना होगा। अगर आपका दैनिक लोड 40 से 50 यूनिट के बीच है तो एक 10 किलोवाट का सोलर सिस्टम एक सूटेबल ऑप्शन हो सकता है। यह सिस्टम अच्छे मौसम की स्थिति में प्रतिदिन 40 से 50 यूनिट बिजली पैदा कर सकता है। सोलर पैनल डायरेक्ट करंट के फॉर्म में बिजली पैदा करते हैं जिसे फिर सोलर इन्वर्टर द्वारा अल्टरनेटिंग करंट में बदल दिया जाता है।

एक रेगुलर इन्वर्टर को सोलर इन्वर्टर में बदलने के लिए एक सोलर चार्ज कंट्रोलर का इस्तेमाल किया जा सकता है जो MPPT और PWM टेक्नोलॉजी में उपलब्ध है। सोलर पैनल द्वारा जनरेट की गई बिजली को स्टोर करने के लिए आप सोलर बैटरी का इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आप सोलर बैटरी का इस्तेमाल नहीं करना चाहते हैं तो आप ऑन-ग्रिड सोलर सिस्टम लगा सकते हैं जो आपके बिजली बिल को कम करने या खत्म करने में मदद कर सकता है।

Tata 10 किलोवाट सोलर सिस्टम के घटक

अब लगवाएं Tata का सबसे एडवांस 10kW सोलर सिस्टम और पूरी करें अपने घर की सभी ज़रूरतों को, जानिए डिटेल्स
Source: LA Times

एक 10 किलोवाट का सोलर सिस्टम दो तरीकों से लगाया जा सकता है – ऑफ-ग्रिड और ऑन-ग्रिड। ऑफ-ग्रिड सिस्टम में सोलर पैनल, सोलर इन्वर्टर, सोलर चार्ज कंट्रोलर और सोलर बैटरी का इस्तेमाल किया जाता है। वहीँ एक ऑन-ग्रिड सिस्टम में बैटरी का इस्तेमाल नहीं किया जाता है और सोलर पैनल से पैदा होने वाली बिजली को इलेक्ट्रिक ग्रिड के साथ शेयर किया जाता है।

सोलर पैनल और सोलर इन्वर्टर

एक 10kW सोलर सिस्टम के लिए आप 330 वाट के 30 सोलर पैनल इस्तेमाल कर सकते हैं। इन सोलर पैनल की औसत कीमत ₹2,75,000 है। आप अपनी ज़रूरतों और बजट के हिसाब से पॉलीक्रिस्टलाइन और मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल में से कोई एक चुन सकते हैं। पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल कम महंगे होते हैं जबकि मोनोक्रिस्टलाइन पैनल ज़्यादा एफ्फिसिएंट लेकिन महंगे होते हैं। 10kW सोलर सिस्टम के लिए 10 kVA सोलर इन्वर्टर की ज़रूरत होती है जिसकी कीमत ₹1,25,000 होती है। बेहतर परफ़ॉरमेंस के लिए आप ज़्यादा महंगा सोलर इन्वर्टर चुन सकते हैं।

सोलर बैटरी और एडिशनल कॉस्ट

अगर आप ऑफ-ग्रिड सोलर सिस्टम लगा रहे हैं और आपको पावर बैकअप की ज़रूरत है तो आप अपने सिस्टम में सोलर बैटरियाँ जोड़ सकते हैं। 10kVA सोलर इन्वर्टर में 120 वोल्ट का DC वोल्टेज होता है और आप 150Ah की 10 बैटरियाँ जोड़ सकते हैं जिसकी कीमत लगभग ₹1,50,000 है। इन कॉम्पोनेन्ट के अलावा, कनेक्शन वायर, सोलर पैनल स्टैंड, DCDB/ACDB बॉक्स आदि जैसे छोटे कॉम्पोनेन्ट की भी ज़रूरत होती है। इसमें इंस्टालेशन भी शामिल है जो टोटल ₹50,000 हो जाती है।

Tata 10 kW सोलर सिस्टम की टोटल कॉस्ट

tata-power-solar-project
Source: Tata Power Solar

टाटा के 10 किलोवाट सिस्टम की टोटल कॉस्ट टाइम, परचेस के लोकेशन और इंस्टालेशन जैसे फैक्टर के आधार पर अलग-अलग हो सकती है।

10kW सोलर पैनल (30 x 330 वाट)₹2,75,000
सोलर इन्वर्टर₹1,25,000
सोलर बैटरी (150Ah x 10)₹1,50,000
एडिशनल कॉस्ट₹50,000
टोटल कॉस्ट₹6,00,000

यह भी देखिए: अब आप सबसे आधुनिक Solar लगवा सकते हैं केवल ₹500 रुपए देकर, जानिए क्या रहेगा प्रोसेस

2 thoughts on “अब लगवाएं Tata का सबसे एडवांस 10kW सोलर सिस्टम, जानिए क्या है प्लान”

Leave a comment