Suzlon Energy को मिला नया ऑर्डर, जानिए कैसे इन्वेस्टर हुए मालामाल

Suzlon Energy को मिला नया ऑर्डर कैसे इन्वेस्टर हुए मालामाल, पूरी डिटेल्स जानिए

विंड एनर्जी सेक्टर की लीडिंग कंपनी Suzlon Energy ने मंगलवार 11 जून को अनाउंस किया था कि उसे एक बड़ा ऑर्डर मिला है। इस नए अचीवमेंट ने शेयर बाजार में कंपनी के परफॉरमेंस को पॉजिटिव रूप से प्रभावित किया है। इस आर्टिकल में हम बात करेंगे सुजलॉन एनर्जी के बारे मौर इसके शानदार स्टॉक परफॉरमेंस के बारे में जिसके कारण इस कंपनी ने हलचल मचा दी है और इन्वेस्टरों को तगड़ा मुनाफा दिया है।

Suzlon Energy का नया ऑर्डर

Suzlon Energy को मिला नया ऑर्डर कैसे इन्वेस्टर हुए मालामाल, पूरी डिटेल्स जानिए
Source: PV Magazine

भारत की सबसे बड़ी रिन्यूएबल एनर्जी सलूशन प्रोवाइडर Suzlon ग्रुप ने शेयर बाजार को इन्फॉर्म किया कि उसे AMPIN एनर्जी ट्रांजिशन प्राइवेट लिमिटेड के लिए 103.95 मेगावाट के विंड एनर्जी प्रोजेक्ट के डेवलपमेंट के लिए ऑर्डर मिला है। इस प्रोजेक्ट के तहत सुजलॉन राजस्थान के फतेहगढ़ जिले में 3.15 मेगावाट की रेटेड कैपेसिटी वाले एक हाइब्रिड लैटिस ट्यूबलर (HTL) टॉवर और 33 विंड टरबाइन जनरेटर (WTC) सेटअप करेगी। यह ऑर्डर सुजलॉन की 3 मेगावाट प्रोजेक्ट सीरीज से 3.15 मेगावाट, S144-140 मीटर टर्बाइन के लिए है।

Suzlon Energy के प्रोजेक्ट की डिटेल्स जानें

सुजलॉन पवन टर्बाइन जनरेटर (WTC) की सप्लाई करेगा। सुजलॉन प्रोजेक्ट का कंस्ट्रक्शन और कमीशनिंग करेगा। कमीशनिंग के बाद सुजलॉन प्रोजेक्ट के लिए ऑपरेशन और मेंटेनेंस सर्विस भी प्रदान करेगा। सुजलॉन ग्रुप के इंडिया ऑपरेशन के सीईओ विवेक श्रीवास्तव का कहना है कि सुजलॉन और AMPIN एनर्जी ट्रांजिशन भारत में रिन्यूएबल एनर्जी को एक्सपैंड करने के लिए पॉपुलर हैं। फ्यूचर में कंपनी हाइब्रिड रिन्यूएबल एनर्जी प्रोजेक्ट में ग्रोथ देखेगी जो एक इफेक्टिव एनर्जी ट्रांजीशन का इम्पोर्टेन्ट।

स्टॉक परफॉरमेंस

Wind-solar-power-hybrid-project
Source: WSI Africa

सुजलॉन एनर्जी के स्टॉक परफॉरमेंस के बारे में BSE पर मल्टीबैगर पावर स्टॉक का 52-वीक का हाई ₹52.19 और लोवेस्ट लेवल ₹13.28 है। कंपनी का मार्केट कैप ₹65,665.84 करोड़ है और पिछले एक साल में सुजलॉन के स्टॉक ने 244% से ज्यादा का रिटर्न दिया है। अकेले 2024 में कंपनी के स्टॉक में 22% की ग्रोथ हुई है। पिछले दो सालों में स्टॉक ने 515% और पिछले तीन सालों में लगभग 640% रिटर्न दिया है।

यह ऑर्डर न केवल सुजलॉन की फाइनेंसियल पोजीशन को स्ट्रांग करता है बल्कि भारत में रिन्यूएबल एनर्जी के एक्सपेंशन में भी योगदान देता है। रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में सुजलॉन का स्टेप काफी इम्पोर्टेन्ट है और फ्यूचर में ज्यादा हाइब्रिड रिन्यूएबल एनर्जी प्रोजेक्ट का पथ बनाएगा।

निष्कर्ष

सुजलॉन एनर्जी को 103.95 मेगावाट विंड एनर्जी प्रोजेक्ट के लिए हाल ही में मिला ऑर्डर कंपनी के लिए एक बड़ा अचीवमेंट है जिससे इसके स्टॉक परफॉरमेंस और फाइनेंसियल स्ट्रेंथ को बढ़ावा मिला है। हाइब्रिड रिन्यूएबल एनर्जी प्रोजेक्ट पर फोकस करने के साथ सुजलॉन भारत के रिन्यूएबल एनर्जी एक्सपेंशन में एक इम्पोर्टेन्ट रोल प्ले करने के लिए तैयार है।

यह भी देखिए: GPES ने लॉन्च किया अपना IPO और मचाई स्टॉक मार्केट में धूम, जानिए पूरी डिटेल

Leave a comment