मोढेरा गाँव बना भारत का पहला Solar Village, पुरे गाओं में लगे Solar

भारत का पहला सोलर विलेज: मोढेरा

जैसे-जैसे दुनिया रिन्यूएबल एनर्जी को तेजी से अपना रही है पर्यावरण की सुरक्षा करना जरूरी हो गया है। गुजरात का मोढेरा गांव भारत का पहला पूरी तरह से सोलर एनर्जी से चलने वाला गांव है। ऐतिहासिक रूप से अपने सन टेम्पल के लिए मशहूर यह गांव अब पूरी तरह से सोलर एनर्जी से चलता है। मोढेरा के 1,300 से ज्यादा घरों में सोलर पैनल लगे हैं और गांव ने जमीन पर सोलर ऊर्जा प्वाइंट इंस्टॉल किए हैं। मोढेरा ने रिन्यूएबल एनर्जी के सेक्टर में एक शानदार एक्साम्प्ल बनाया है।

मोढेरा के सोलर एनर्जी में बदलाव ने पूरे देश को एक नई डायरेक्शन दी है। गांव के हर घर में सोलर पैनल लगे हैं जो बिजली पैदा करते हैं जिसे सोलर बैटरी में स्टोर किया जाता है। ये बैटरी रात में पावर सप्लाई करती हैं जिससे 24 घंटे बिजली की अवेलेबिलिटी होती है। यह बदलाव केंद्र और राज्य सरकारों के साथ-साथ गांव के निवासियों के बीच कोलैबोरेशन का नतीजा है।

सोलर एनर्जी के उपयोग के लाभ

nhpc-announced-1200-mw-solar-power-project-in-uttar-pradesh

सोलर पैनलों के एफ्फिसिएंट उपयोग ने ग्रामीणों की इकनोमिक कंडीशन में काफी सुधार किया है। मिट्टी के बर्तन बनाने, सिलाई, खेती और जूता बनाने जैसे ट्रेडिशनल बिज़नेस में लगे निवासियों के पास अब ज़्यादा समय और रिसोर्स हैं। सोलर एनर्जी को अडॉप्ट करके उन्होंने न केवल अपने लाइफस्टाइल को बढ़ाया है बल्कि पर्यावरण के कन्सेर्वटिव में भी कंट्रीब्यूशन दिया है। मोढेरा ने यह डेमोंस्ट्रेशन करके है कि सूर्य अबन्डेंट एनर्जी को हार्नेस करके बेहतर और ज्यादा सस्टेनेबल लाइवलीहुड को अपनाया जा सकता है।

मोढेरा की सफलता का कारण और फ्यूचर पॉसिबिलिटी

मोढेरा गाँव बना भारत का पहला सोलर विलेज, जानिए पूरी डिटेल्स
Source: ZEE Business

मोढेरा की सफलता ने भारत भर के अन्य गाँवों को रिन्यूएबल एनर्जी की ओर मुड़ने के लिए प्रेरित किया है। भारत सरकार का लक्ष्य 2030 तक देश की आधी एनर्जी ज़रूरतों को सोलर और विंड एनर्जी जैसे रिन्यूएबल एनर्जी सोर्स से पूरा करना है। मोढेरा की उपलब्धि इस गोल की डायरेक्शन में एक इम्पोर्टेन्ट स्टेप है। इस गाँव की कहानी दुनिया भर में एक इंस्पिरेशन के रूप में काम करती है जो हाईलाइट करती है कि सोलर एनर्जी के प्रॉपर उपयोग से एक सस्टेनेबल और ग्रीन फ्यूचर बन सकता है।

सोलर पैनल खरीदने से पहले आवश्यक जानकारी लेना और एक अच्छा डिसिशन लेना ज़रूरी है। मोढेरा की सफलता जीवन को बदलने और पर्यावरण को साफ़ और सुरक्षित रखने के लिए सोलर एनर्जी की कैपेसिटी को हाईलाइट करती है। सही एप्रोच के साथ सोलर एनर्जी हमें प्रकृति और एक सस्टेनेबल फ्यूचर के करीब ला सकती है।

यह भी देखिए: नई PM-KUSUM सोलर पंप योजना फेज II के लिए एप्लीकेशन हो गई हैं शुरू, जानिए कैसे करें अप्लाई

Leave a comment